चैंपियंस ट्रॉफी: धोनी का यह छक्का देख दंग रह गए किवी, देखिए VIDEO

जब क्रीज पर महेंद्र सिंह धोनी हों, और उनके बल्ले से छक्का निकले, तो वह जरूर सुर्खियों में रहता है. ऐसा ही कुछ चैंपियंस ट्रॉफी के वॉर्म-अप मैच में दिखा. न्यूजीलैंड के खिलाफ ओवल में 190 रनों के लक्ष्य का पीछा करते हुए भारत ने अजिंक्य रहाणे, शिखर धवन और दिनेश कार्तिक के विकेट खो दिए थे. मौजूदा कप्तान विराट कोहली और पूर्व कप्तान धोनी बल्लेबाजी कर रहे थे. इस दौरान धोनी ने एक बार फिर साबित किया कि क्यों उन्हें दमदार हिटर कहा जाता है.

जानवर जिसकी सबसे ज़्यादा स्मगलिंग होती है

क्या आपको मालूम है दुनिया में सबसे ज़्यादा किस जानवर की तस्करी होती है?
इस जानवर का नाम है पैगोंलिन. पश्चिमी देशों में बहुत से लोग इसके बारे में नहीं जानते थे. लेकिन अब वहां ज़्यादातर लोग इसके बारे में जानते हैं. क्योंकि ये जानवरों की तस्करी के लाखों डॉलर के अवैध धंधे में शामिल हो गया है. पैंगोलिन की बड़े पैमाने पर तस्करी की जा रही है. लेकिन कुछ इसके चाहने वाले हैं जो इसे बचाना चाहते हैं.
पैंगोलिन एक चींटीखोर जानवर है, जो इस धरती पर स्तनधारी और रेप्टाइल यानी सांप-छिपकली जैसे जानवरों के बीच की कड़ी है.

जम्मू और कश्मीर को बचाना है तो राज्यपाल शासन लगाया जाए: फारूक अब्दुल्ला

श्रीनगर
जम्मू और कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री फारूक अब्दुल्ला ने राज्य में तत्काल राज्यपाल शासन लगाने का आह्वान करते हुए कहा कि देश में सांप्रदायिक तनाव पर नियंत्रण का एकमात्र यही तरीका है। संसद के नवनिर्वाचित सदस्य अब्दुल्ला ने कहा, ‘हम कभी राज्यपाल शासन के समर्थक नहीं रहे, हमने हमेशा इसका विरोध किया। लेकिन और कोई रास्ता नहीं है।

70 साल से खतरा बना हुआ है PAK, सर्वोच्च होनी चाहिए भारत की तैयारीः जेटली

पाकिस्तान पर निशाना साधते हुए रक्षा मंत्री अरुण जेटली ने रविवार को कहा कि भारत ने करीब 70 साल से सुरक्षा खतरे का निरंतर सामना किया है इसलिए उसकी रक्षा तैयारियां हमेशा सर्वोच्च होनी चाहिए. जेटली ने स्वदेश में विकसित मानवरहित और मानव संचालित विमानों के परीक्षण के लिए कर्नाटक के चित्रदुर्ग के पास स्थापित देश के पहले एरोनॉटिकल टेस्ट रेंज का उद्घाटन किया.

पैदा होते ही चलने लगा ये बच्चा, डॉक्टर भी हैरान, VIDEO

जन्म लेने के करीब आठ से नौ महीने के बाद ही बच्चे चलना शुरू करते हैं. इस दौरान पहले वो घुटनों के बल चलने की कोशिश करते हैं. लेटे-लेटे पैर चलाते हैं और फिर कहीं जाकर वो अपने पैरों पर टेकते-टेकते चलना शुरू करते हैं. लेकिन दो दिन पहले सोशल मीडिया पर एक ऐसा वीडियो अपलोड हुआ है जिसमें एक नवजात बच्चा अपने जन्म के कुछ ही मिनटों बाद चलता हुआ दिख रहा है. डॉक्टर ने उस बच्चे को अपने हाथों में उठाया हुआ है और बच्चा अपना पैर आगे बढ़ाता जा रहा है.

बदमाशों को गोली मारकर नेशनल शूटर ने बचाई अगवा देवर की जान

देश की राजधानी दिल्ली में नेशनल लेवल शूटर पति-पत्नी की बहादुरी और सूझबूझ ने एक शख्स की न केवल जान बचाई बल्कि किडनैपर्स को धूल भी चटा दी. अपने घर में शूटिंग की प्रैक्टिस कर रही है आइशा ने महिलाओं के लिए एक ऐसी मिसाल पेश की है, जो साहस और सूझबूझ का परिचय देने के साथ ही लोगों को जगाने का काम भी करती है.

जी हां, ऐसा ही वाक्या दिल्ली के भजनपुरा इलाके में सामने आया है. यहां आयशा नाम की एक नेशनल लेवल की शूटर ने बदमाशों के चंगुल से अपने देवर को न केवल छुड़ाया बल्कि बदमाशों के पैर पर गोली मारकर उनको भी पुलिस के हवाले कर दिया. ये पूरा मामला 25 मई को गुरुवार की रात का है. आयशा अपने पति फलक शेर आलम के साथ कार्यक्रम में गई हुई थी.

CBSE 12वीं की टॉपर रक्षा गोपाल का फेवरेट सब्जेक्ट है पॉलिटिकल साइंस, जानें क्या है इनका करियर प्लान

अपने आगे के करियर प्लान के बारे में रक्षा गोपाल ने बताया कि उन्हें पॉलिटिकल साइंस पढ़ने में काफी पसंद है | वह ग्रेजुएशन में पॉलिटिकल साइंस में ऑनर्स करेंगी | इसके बाद वह यूपीएससी की परीक्षा की तैयारी करेंगी | हालांकि उन्होंने दोहराया कि फिलहाल उनका पूरा फोकस ऑनर्स की पढ़ाई पर है | ग्रेजुएशन पूरा होने के बाद ही वह यूपीएससी पर ध्यान केंद्रित करेंगी |

देखिए उस कमरे को जहां हुआ फेसबुक का जन्म, आज ये हैं 54 बिलियन डॉलर के मालिक

‘फेसबुक’, दुनिया में गिनती के ही लोग होंगे जो आज इस नाम से वाकिफ न हों। शायद ही किसी ने सोचा था कि 2004 में बनी एक वेबसाइट कुछ ही सालों में दुनिया पर राज करने लगेगी और इसका संस्थापक (मार्क जकरबर्ग) दुनिया के सबसे अमीर लोगों की सूची में पांचवें नंबर पर आ जाएगा। एक दिलचस्प पहलु ये भी है कि इस वेबसाइट का जन्मस्थान कोई बहुत बड़ी सॉफ्टवेयर कंपनी नहीं बल्कि एक छोटा सा कमरा था।

– ‘फेसमैश’ से फेसबुक तक का सफर

अमेरिका की प्रतिष्ठित हार्वर्ड यूनिवर्सिटी से पढ़ाई कर रहे मार्क जकरबर्ग ने अक्टूबर 2003 में एक प्रोग्राम तैयार किया था जिसका नाम था फेसमैश। ये छोटी से वेबसाइट कॉलेज के छात्रों को एक दूसरे को जोड़ने के इरादे से बनाई गई थी। जकरबर्ग ने यूनिवर्सिटी के कंप्यूटर नेटवर्क को हैक करने के बाद छात्रों की तमाम तस्वीरों को इस वेबसाइट पर डाल दिया था और उस समय इस वेबसाइट पर छात्र सिर्फ ये बताते थे कि आखिर किसकी फोटो सबसे शानदार है। शुरुआत के महज 4 घंटों में 450 लोग इससे जुड़ गए थे और 22 हजार लोग तस्वीरें देख चुके थे |

मन की बात में पीएम मोदी बोले- लोकतंत्र में सरकार जवाबदेह, 3 साल के कार्यकाल को हर कसौटी में कसा गया

प्रधानमंत्री मोदी ने रेडियो कार्यक्रम मन की बात में कहा कि उनकी सरकार के तीन साल पूरे होने पर कई तरह के सर्वे और ओपीनियन पोल आए हैं | कई तारीफ हुई है तो कहीं आलोचना | लेकिन हमारे सभी महत्वपूर्ण हैं | हमारे 3 साल के काम को हर कसौटी में कसा गया है | लोकतंत्र में सरकारें जवाबदेह होती हैं उनको जनता-जनार्दन को हिसाब देना चाहिए | पीएम ने कहा कि वह उन सब लोगों का धन्यवाद देते हैं, जिन्होंने समय निकाल करके सरकार के काम की गहराई से विवेचना की, जो त्रुटियां होती हैं, कमियां होती हैं अच्छी हो, कम अच्छी हो, बुरी हो, जो भी हो, उसमें से ही सीखना है और उसी के सहारे आगे बढ़ना है | रचनात्मक आलोचना लोकतंत्र को बल देता है | एक जागरूक राष्ट्र के लिए, एक चैतन्य पूर्ण राष्ट्र के लिए, ये मंथन बहुत ही आवश्यक होता है |

जब सेना पर पत्थर-पेट्रोल बम फेंका जाएगा, तब मैं सेना को देखते रहने के लिए नहीं कह सकता : जनरल विपिन रावत

थल सेना अध्यक्ष बिपिन रावत एक समाचार एजेंसी को दिए बयान में कहा है कि जब लोग सेना पर पत्थर – पेट्रोल बम फेकें तब मैं सेना को देखते रहने, मरने के लिए नहीं कह सकता | उन्होंने कहा कि डर्टी वॉर से निपटने के लिए नायाब तरीके अपनाने होंगे | पीटीआई से बातचीत में उन्होंने यह बात कही | सेना अध्यक्ष का यह बयान ऐसे समय आया है जब सेना जम्मू कश्मीर में हिंसा पर उतारू भीड़ पर काबू करने का प्रयास कर रही है | इतना ही नहीं सीमा पर पाकिस्तान की ओर से आए दिन संघर्षविराम उल्लंघन का प्रयास हो रहा है |

बता दें कि कुछ दिन पहले एक मेजर के जीप के आगे एक पत्थरबाज को बांधने के लिए आलोचना का शिकार होना पड़ा था | इस बात का सेना की ओर से समर्थन किया गया | सेना प्रमुख ने मेजर के फैसले को सही बताया था |